Thu. Apr 18th, 2019

पांडेचेरी लोकसभा सीट पर होगा कांग्रेस का कब्ज़ा

मोहम्मद असद हयात
**************************
(Pondicherry पांडेचेरी) केंद्र शासित प्रदेश है जिस की 1 लोकसभा सीट है. विधानसभा में 30 सीटें हैं.

1962 में यह केंद्र शासित प्रदेश बना. 2006 में नाम Pondicherry से बदल कर Puducherry कर दिया गया. पहला लोकसभा का चुनाव 1967 में हुआ. कॉंग्रेस पार्टी में उस वक़्त दो फाड़ हो गया था. पहला सांसद इस क्षेत्र से जो निर्वाचित हुए वे संगठन कांग्रेस नाम के दूसरे ग्रुप से थे जो इंदिरा गाँधी विरोधी था. पहले सांसद Thiumudi N. SETHURAMAN थे जो बाद में कांग्रेस के मोहन कुमार मंगलम से हार गए. 1977 में सीट अन्ना DMK पार्टी ने जीती.

M. O.H.Farook Maricar भी तीन बार 1991, 96, 99 में सांसद और 3 बार मुख्यमंत्री रहे.

2004 में PMK के M Ramadass सांसद बने. 2009 में कांग्रेस के V. NARAYANASAMY सांसद बने जो 2014 में R राधा कृष्णन ( आल इंडिया NR कांग्रेस )से हार गए.

2014 के लोकसभा चुनाव में AINRC के R राधा कृष्णन को 2, 55, 826 वोट मिला. उनकी जीत 60, 854 वोट से हुई. कांग्रेस को 1, 94, 972 वोट मिला. ADMK को 1, 32, 657, DMK को 60580, PMK को 22754, सीपीआई को 12709, आम आदमी पार्टी को 8307 वोट मिले.

2016 के विधानसभा चुनाव में AINRC को 2, 23, 108 वोट मिले और 30 सीटों वाली विधानसभा में उसको 8 सीटें हासिल हुई. कांग्रेस को 15, DMK को 2, अन्ना DMK को 4, 1 सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार जीता. अब कांग्रेस और DMK गठबंधन की सरकार है.

2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के V. VAITHILINGAM उम्मीदवार है. वे विधानसभा में स्पीकर है. 8 बार विधायक बने .

AINRC पार्टी की स्थापना N. RANGASWAMY ने की जो 2011 -2016 तक मुख्यमंत्री रहे, वर्तमान मुख्यमंत्री V. NARAYANASWAMY है. कांग्रेस और DMK की स्थिति मज़बूत है. आशा है की कांग्रेस सीट जीत लेगी.

केंद्र शासित प्रदेश पुद्दुचेरी के क्षेत्र में दक्षिण में फैले पुद्दुचेरी, कराईकल, माहे और यनाम के वे क्षेत्र शामिल हैं जहां पहले फ्रांसीसियों का शासन था. पुद्दुचेरी इस प्रदेश की राजधानी है जो कभी भारत में फ्रांस वालों का मुख्‍यालय हुआ करता था. यह 138 वर्षों तक फ्रांसीसी शासन के अधीन रहा और 1 नवंबर 1954 को भारत में इसका विलय हो गया. इसके पूर्व में बंगाल की खाड़ी और शेष तीन तरफ तमिलनाडु है. पुद्दुचेरी से लगभग 150 किलोमीटर दक्षिण में पूर्वी तट पर कराईकल है जबकि माहे पश्चिम में केरल से घिरे पश्चिमी घाटों के मालाबार तट पर स्थित है. यहां पर कालीकट हवाई अड्डे से पहुंचा जा सकता है जो माहे से 70 किलोमीटर दूर है. यनाम आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले से सटा हुआ है और विशाखापत्‍तनम से 200 कि.मी. की दूरी पर है.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *